loading...

महान शंकराचार्य के कौमार्य से जुड़ एक प्रेरक प्रसंग

Share

Shankracharya ka Koumarya आप GyanPanti.com पर पढ़ रहे हैं, श्री आदि शंकराचार्य के जीवन से जुड़ा एक विचित्र प्रसंग : शंकर "ब्रह्मचारी" थे और मात्र 32 वर्ष की आयु में देह त्यागने तक आजीवन ब्रह्मचारी ही रहे। फिर भी, "किम् आश्चर्यम्", कि अपने जीवन की सबसे कठिन परीक्षा का संधान उन्होंने "यौन अनुभूतियों" पर संवाद…

Read more
Loading...
Close