दुनियाँ की सेनाओ की सबसे खतरनाक ट्रेनिंग प्रैक्टिस

[nextpage title=”1″ ]

Most Dangerous Army Exercise, Hindi

most dangerous army exercise

क्या होता है सबसे खतरनाक सैनिक अभ्यास, कैसे करती है दुनियां की सेनायें सबसे खतरनाक मिलिट्री प्रैक्टिस, संसार की सबसे कठिन व् मुश्किल सैनिक अभ्यास कौन से है? इन्ही सबसे सवालों के जवाब मिलेंगे आपको आज की हमारी इस पोस्ट में, आइयें जानते हैं इनके बारे में :

अपने देश की सेना से जुड़ना न सिर्फ गर्व की बात है, बल्कि किसी व्यक्ति के लिए खास होने का प्रमाण भी है। पठानकोट पर हुए हमलो के जवाब में भारतीय सैनिकों का मुंहतोड़ जवाब इस बात का प्रमाण है कि सैनिकों में अपने देश के लिए मर मिटने का जज्बा होता है। मगर क्या कभी आपने सोचा है कि सेना में भर्ती होने के लिए किन-किन परीक्षाओं से गुजरना पड़ता है? दुशमनों से लोहा लेना मुश्किल है और उन्हें धूल चटाना और भी मुश्किल, मगर दुनिया भर में सेनाएं अपने सैनिकों की कुछ ऐसी परीक्षाएं लेती हैं जो उन्हें लोहे से भी ज्यादा फौलादी बनाती हैं। तो आइए, देखते हैं सेना में भर्ती के लिए कौनसे देशों में कैसी परीक्षा ली जाती हैं:

Most Dangerous Army Exercise :

dangerous army exercise

1. जिंदा ग्रेनेड से “Hot Potato”खेलना
Country : चीन

चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी में सैन्य अभ्यास का स्तर ही अलग होता है। उनके एक अभ्यास में सैनिकों को जिंदगी और मौत का खेल खेलना होता है। बचपन में “Hot Potato”या “Passing the Pass”तो खेला ही होगा। बस वही खेल है जिसमें आपको पास करना है जिंदा ग्रेनेड। एक से दूसरे सैनिक तक यह तब तक पास होगा जब तक आखरी सैनिक उसे जमीन में फटने से पहले दबा न दे। है न खतरनाक…

 

dangerous army exercise

2. छाती में गोली खाना
Country : रूस

रूस की स्पेशल फोर्स की ट्रेनिंग का एक हिस्सा है जिसमें सैनिक एक-दूसरे को छाती में गोली मारते हैं। इसके पिछे विचार यह कि उन्हें सीने में गोली खाने के लिए तैयार किया जा सके। हालांकि उन्हें गोली सुरक्षा जैकेट के साथ मारी जाती है, लेकिन फिर भी कुछ सैनिक घायल हो जाते हैं। घायल होने के बाद भी सैनिक को खड़े होकर जवाबी हमला करना होता है। ऐसे हमले उनसे तनावपूर्ण माहौल में भी करवाए जाते हैं ताकि उनकी मानसिक स्थिति की जांच की जा सके।

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

[/nextpage][nextpage title=”2″ ]

Most Dangerous Army Exercise, Hindi

dangerous army exercise

3. आग की गोलों के बीच से कूदना
Country : रूस

चीन में सैनिकों को आग के गोलों के बीच में से कूदने की ट्रेनिंग दी जाती है। पूरे कपड़ों और हाथ में राइफल लिए सैनिकों को वास्तविक स्थिति बना कर दी जाती है ताकि वह जरूरत पड़ने पर यह साहसिक कदम उठा सके।

 

dangerous army exercise

4. Drownproofing ट्रेनिंग
Country : अमेरिका, नेवी सील्स

अमेरिकी नेवी सील्स का हर अभ्यास ही खौफनाक होता है, लेकिन खासतौर पर यह उनमें भी अलग है। इसमें ट्रेनिंग ले रहे सैनिकों को भयंकर यातना दी जाती है। उनके हाथों और पैरों को आपस में बांध कर बर्फीले पानी में छोड़ देते हैं। इस दौरान उन्हें उछल के नीचे से उपर कम से कम 20 बार आना होता है, वो भी पांच मिनट में। साथ ही उन्हें पानी में समरसॉल्ट मारना भी सिखाया जाता है। यातना यहीं खत्म नहीं होती। ट्रेनिंद के दौरान इन पर हमला भी होता है, जिससे उनकी क्षमता को प्रखर किया जा सके।

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

[/nextpage][nextpage title=”3″ ]

Most Dangerous Army Exercise, Hindi

dangerous army exercise

5. कंक्रीट की पट्टियों को सिर से तोड़ना
Country : चीन और कोरिया

कई देश की सेनाओं में बैंड, सिंगर, खिलाड़ी आदि होते हैं, लेकिन चीन और कोरिया के सेनाओं में ऐसे लड़ाके हैं जो अपनी पीठ पर बंबू के डंडे झेल सकते हैं और सिर से कंक्रीट की मोटी पट्टियां तोड़ने की क्षमता रखते हैं। अगर सेना में सिर्फ ताकत दिखाने की बात होती तो शायद चीन की सेना को कोई टक्कर न दे पाता। लेकिन सैन्य क्षमता इससे भी कई अधिक अलग जीवट की मांग करती है।

 

dangerous army exercise

6. कोबरा का खून पीना
Country : अमेरिकी मरींस

वो दिन गए जब पुश-अप करना से आप टफ बन जाते थे। असली टफ बनना है तो यू.एस. मरींस से मिलिए। ये कोबरा का खून पीते हैं। जिंदा चिकन के सिर को अपने दांतों से अलग करते हैं। जी ये सब इनकी ट्रेनिंग का हिस्सा है। पहले इन्हें कोबरा को मारना सिखाया जाता हैं। फिर कोबरा का खून पीने की ट्रेनिंग दी जाती है। साथ ही कोबरा की पूंछ भी खाने की ट्रेनिंग मिलती है। माना जाता है कि ऐसी ट्रेनिंग जंगलों में जीने के काम आती है।

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

[/nextpage][nextpage title=”4″ ]

Most Dangerous Army Exercise, Hindi

dangerous army exercise

7. संतुलन जांचने के लिए आग पर चलना
Country : बेलारूस

बेलारूस के विशेष अंदरुनी दल के सैनिक काफी टफ होते है। अपनी क्षमता को साबित करने के लिए इन लोगों एक के बाद एक भीषण अभ्यास के दौर से गुजरना पड़ता है। इस टेस्ट में सबसे पहले 10 किलोमीटर को दौड़, फिर भीषण हमले के बाद दूसरे सैनिक से दो-दो हाथ और फिर एक्रबैट्स कराया जाता है। साथ ही कार का टायर पर इनका बैलेंस चेक किया जाता है, जो आग से निकलता है।

 

dangerous army exercise

8. स्काईस्क्रैपर से कूदना और साइड में लटकना
Country : इस्राइल

यदि कभी किसी आतंकी ने तल अवीव स्काईस्क्रैपर पर बंधक बनाने की कोशिश की, तो आखरी सोच उसकी होगी कि आतंक-निरोधी दस्ते से कोई सिपाही इमारत से कूद कर उसे पकड़ ले। इसके प्रशिक्षण के दौरान सिपाही वो सब कुछ रोक देते हैं जो उन्हें रोकता है। सारा ध्यान खिड़की और नकली आतंकी की हलचल पर होता है। इस इमारत में 49 मंजिलें हैं

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

[/nextpage][nextpage title=”5″ ]

Most Dangerous Army Exercise, Hindi

dangerous army exercise

9. नुकिले और खुरदरे पत्थरों और चट्टानों पर रेंगना
Country : ताइवान

‘रोड टू हैवन’ ताइवान की मौसेना की नौ सप्ताह की भीषण शारीरिक ट्रेनिंग आखरी पड़ाव होता है। लेकिन नाम पर न जाइए जनाब। यह ‘हैवन’ कुछ और ही है। इसमें सिपाही को 50 मीटर लंबे पत्थरीले रास्ते से लेट कर रेंग कर निकलना पड़ता है। नंगे बदन पर खुरदरी चट्टानों के भयंकर घाव हो जाते हैं।

 

dangerous army exercise

10. धुंए के मोटे गुब्बारों के बीच घुड़सवारी करना
Country : नीदरलैंड- रॉयल गार्ड

कई देशों में सैनिकों को जानवरों के साथ ट्रेनिंद करने के लिए कहा जाता है। नीदरलैंड के रॉयल गार्ड ऑफ ऑनर के सैनिकों को धुंए के मोटे गुब्बार के बीच घुडंसवारी करनी होती है। इसके लिए खास धुंआ फैलाने के लिए बम फोड़े जाते हैं। साथ ही इसका प्रदर्शन बजट पेश करने से पहले भी किया जाता है।

 

 

लेटेस्ट अपडेट व लगातार नयी जानकारियों के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करे, आपका एक-एक लाइक व शेयर हमारे लिए बहुमूल्य है | अगर आपके पास इससे जुडी और कोई जानकारी है तो हमे publish.gyanpanti@gmail.com पर मेल कर सकते है |
Thanks!
(All image procured by Google images)

[/nextpage]

GyanPanti Team

पुनीत राठौर, www.gyanpanti.com वेबसाइट के एडमिन हैं और यह Ad Agency में बतौर आर्ट डायरेक्टर कार्यरत हैं. इन्हें नयी-नयी जानकारी हासिल करने का शौक हैं और उसी जानकारी को आपके पास पहुचाने के लिए ही है ब्लॉग बनाया गया हैं. आप हमारी पोस्ट को शेयर कर इन जानकारियों को बाकी लोगो तक पहुचाने में हमारी सहायता कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *