हाथीओं के बारे में रोचक तथ्य – Intersting Facts About Elephant

Share

Intersting Facts About Elephant, Hindi

2 elephant facts 909

loading...

हाथीओं के बारे में रोचक तथ्य

हाथी स्थल प्राणीयों में सबसे बड़ा प्राणी है वर्तमान समय में हाथिओं की केवल दो प्रजातियां जीवित है ऍलिफ़्स तथा लॉक्सोडॉण्टा इनके इलावा एक ओर भी प्रजाति मॅमथस थी जो कि अब विलुप्त हो चुकी हैं ऍलिफ्स प्रजाति अफरीका में पाई जाती हैं और लॉक्सोडॉण्टा भारत में सिर्फ यह सबसे बड़ा प्राणी ही नही है ब्लिक इसकी और भी कई विचित्र विशेषताएँ हैं जो हम आप को इस पोस्ट में बताते हैं

1 . हाथी लेट कर नही ब्लकि खड़े होकर ही सोते हैं

 

2. हाथीयों में यौवन अवस्था आमतौर पर 13 या 14 साल की आयु में आ जाती है.

 

3. एक हाथी पानी की गंध को 4.5 किलोमीटर की दुरी से सूंघ सकता है.

 

4. हाथी दिन में बहुत कम सोते हैं. बस ज्यादा से ज्यादा 4 घंटे.

 

5. हाथी एक एकलौता जानवर है जो कि कूद नही सकता और जिसके चार घुटने होते है.

 

6. हर हाथी की गरज़ भी हम मनुष्यों की आवाज की तरह भिन्न होती है.

 

7. हाथी कभी भी आपस में नही लड़ते.अगर किसी हाथी को कोई चोट लगती है तो दुसरा हाथी उसकी सहायता जरूर करता है.

 

8. अगर किसी झुंड का एक हाथी मर जाए तो सारा झुंड अजीब-अजीब तरह से गरज़ कर शौक मनाता है.

 

9. हाथी साफ सुथरा रहना पसंद करते हैं और हर रोज नहाते हैं.

 

10. हाथी अपनी सूँढ से एक फर्स पर गिरा छोटा सा सिक्का भी उठा सकते हैं.

 

11. अब तक दुनिया में प्राप्त हुए भिन्न जीवाश्मों से पता चला है कि आज से 5 करोड़ साल पहले हाथियों की करीब 170 प्रजातीयां विकसित थी.यह जीवाश्म ऑस्ट्रेलीया और अंर्टाकटिका को छोड़ सभी महाद्वीपों में पाए गए हैं.

 

12. मादा हाथी हर 4 साल में एक बच्चे को जरूर जन्म देती है. इसका गर्भकाल औसतन 22 महीने तक का होता है. 1 प्रतीशत मामलों में जुडवा बच्चे जन्म लेते हैं. नव जन्में हाथी की लंम्बाई लगभग 83 सेंटीमीटर और वजन 112 किलो तक का होता है

 

13. अफरीकी मादा हाथियों का गर्भकाल 22 महीने का होता है.

 

14. इतने बड़े कान होने के बाद बावजूद भी हाथी की सुनने की समता कम होती है.

 

15. अफरीकन हाथीयों के कान भारतीय हाथियों से बड़े होते हैं.

 

16. अफरीकन हाथियों के कानों का उपयोग वेटिंलेशन के लिए किया जाता है.

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

loading...

Comments

Comments Below

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close