रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया से जुड़े रोचक तथ्य | RBI Facts in Hindi

[nextpage title=”1″ ]

Reserve Bank of India RBI Facts in Hindi

IndiaPA1120Rupees571839

क्या आप जानते हैं की भारत का प्रमुख बैंक कौन सा है, क्या है भारतीय रिज़र्व से जुड़े अनसुने तथ्य. आइयें आज की इस पोस्ट में हम जानते है RBI से जुडी ऐसी ही अनसुनी-अनकही बाते:

1 अप्रैल का दिन भारत के महत्वपूर्ण दिनों में से एक था। क्योंकि इसी दिन 1935 में भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना की गई थी। शुरुआत में आरबीआई निजी बैंक था, लेकिन 1949 में भारत सरकार ने इसे अपना उपक्रम बना दिया। रिजर्व बैंक को आज भारत का केन्द्रीय बैंक माना जाता है और भारत में मौजूद अन्य बैंकों का संचालन किया जाता है।

 

http://gcpah.com/?p=download-Autodesk-MotionBuilder-2012-64-bit&1b0=66 चलिए जानते हैं आरबीआई ये जु़ड़े कुछ रोचक तथ्य | Interesting Facts about Reserve Bank of India, Hindi : 

enter site 1. आरबीआई का लोगो मोहर से प्रेरित

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया का लोगो पहले वह ईस्‍ट इंडिया कंपनी की डबल मोहर से प्रेरित था, बाद में इस लोगो में बदलाव किया गया।

 

cheap Adobe Flash CS3 Professional 2. निजी से सरकारी बनी आरबीआई

रिजर्व बैंक का गठन एक निजी संस्‍था के रूप में 1 अप्रैल, 1935 को किया गया था, लेकिन 1949 में भारत सरकार ने इसे अपना उपक्रम बना दिया और यह सरकारी संस्था बन गई।

 

see url 3. फाइनेंशियल ईयर 1 जुलाई से 30 जून

भारत में फाइनेंशियल ईयर 1 अप्रैल से 31 मार्च तक होता है, जबकि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया का फाइनेंशियल ईयर 1 जुलाई से शुरू होकर 30 जून को समाप्‍त होता है।

 

go to site 4. सिर्फ करंसी नोट

आरबीआई रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया सिर्फ करंसी नोटों की छपाई करता है। जबकि, सिक्‍कों को बनाने का काम भारत सरकार के द्वारा किया जाता है।

 

http://civilengineeringmcq.com/?oem=discount-Solidworks-2017-Premium&ffd=36 5. उडेशी बनी पहली महिला डिप्‍टी गवर्नर

केजे उडेशी रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की पहली महिला डिप्‍टी गवर्नर बनीं थी। उन्‍हें साल 2003 में इस पद पर नियुक्‍त किया गया।

 

10-mil839

http://eventsbase.co.uk/?p=download-Adobe-Creative-Suite-5-Design-Standard&f39=05 6. 5 और 10 हजार के नोट भी छापे

रिजर्व बैंक ने 5,000 और 10,000 रुपए के नोटों की छपाई साल 1938 में की थी। इसके बाद 1954 और 1978 में भी इन नोटों की छपाई की गई थी।

 

get link 7. पाकिस्‍तान और म्‍यांमार का भी था सेंट्रल बैंक

भारत के अलावा रिजर्व बैंक दो अन्‍य देशों पाकिस्‍तान और म्‍यांमार के सेंट्रल बैंक के रूप में अपनी भूमिका निभा चुका है। आरबीआई ने जुलाई 1948 तक पाकिस्‍तान और अप्रैल 1947 तक म्‍यांमार (वर्मा) के सेंट्रल बैंक के रूप में काम किया।

 

http://departmentofability.com/?p=OEM-Windows-Server-2016-Standard&29c=0c 8. देशभर में आरबीआई के हैं 29 ऑफिस

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के देशभर में 29 ऑफिस हैं। इसमें से अधिकांश ऑफिस राज्‍यों की राजधानी में है।

 

go to link 9. पूर्व पीएम मनमोहन सिंह रह चुके हैं गवर्नर

मनमोहन सिंह अकेले ऐसे प्रधानमंत्री रहे हैं, जो कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर के पद पर कार्य कर चुके हैं।

 

10. देशमुख आरबीआई के पहले भारतीय गवर्नर

सीडी देशमुख पहले ऐसे भारतीय थे, जिन्‍होंने आरबीआई के गवर्नर का पदभार संभाला था और वे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के तीसरे गवर्नर बने। इसके अलावा वह वर्ष 1951-52 में अं‍तरिम बजट के समय भारत के वित्‍त मंत्री भी रह चुके हैं। देशमुख बैंकों के राष्‍ट्रीयकरण करने के खिलाफ थे।

इन्हें भी पढ़े:

अरबों रुपयों के मालिक रतन टाटा का जीवन परिचय

कैसे पेट्रोल पंप पर कम करने वाला धीरुभाई अम्बानी बना करोडपति

नया बिज़नस शुरू करने से पहले हमारे Business Tips जरूर पढ़ ले

Google में नौकरी करने वालो को क्या-क्या मिलते हैं फायदे

यह हैं इंडिया के अरबपतियों की अनमैरिड ग्लैमर बेटियां

भारतीय शेयर बाज़ार से जुड़े रोचक तथ्य जिनके बारे में अधिकांश लोगो को नहीं पता

मुकेश अम्बानी से लेकर शिव नादर तक जाने देश के 9 सबसे बड़े दानवीर

क्या होती है पॉवर ऑफ़ अटॉर्नी, जाने इसके बारे में सबकुछ

जाने! पूरी दुनियां में सबसे ज्यादा नौकरियाँ देने वाली टॉप 10 कंपनियां

कैसे बनते है भारतीय नोट और क्यों तथा कैसे किये जाते हैं ख़त्म

जाने, दुनियाँ के सबसे अजीब टैक्स कानूनों के बारे में

 

 

लेटेस्ट अपडेट व लगातार नयी जानकारियों के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करे, आपका एक-एक लाइक व शेयर हमारे लिए बहुमूल्य है | अगर आपके पास इससे जुडी और कोई जानकारी है तो हमे publish.gyanpanti@gmail.com पर मेल कर सकते है |
Thanks!
(All image procured by Google images)

[/nextpage]

GyanPanti Team

पुनीत राठौर, www.gyanpanti.com वेबसाइट के एडमिन हैं और यह Ad Agency में बतौर आर्ट डायरेक्टर कार्यरत हैं. इन्हें नयी-नयी जानकारी हासिल करने का शौक हैं और उसी जानकारी को आपके पास पहुचाने के लिए ही है ब्लॉग बनाया गया हैं. आप हमारी पोस्ट को शेयर कर इन जानकारियों को बाकी लोगो तक पहुचाने में हमारी सहायता कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *