अवश्य जानिए, हमारी राष्ट्रभाषा हिंदी के रोचक तथ्य | Hindi Facts

follow site [nextpage title=”1″ ]

Interesting Facts about Hindi Language

http://evfta.com/?p=download-Autodesk-Smoke-2011&1d0=65 hindi language facts-764

enter site हिन्दी हमारी भाषा है, हमारी मातृभाषा है, हिन्दुस्थान में सबसे ज्यादा हिन्दी में ही बोला जाता है। हिन्दी देवभाषा संस्कृत से ही बनी है। संस्कृत के कठिन होने के कारण हिन्दी का निर्माण हुआ था। हिन्दी आज अपना अलग महत्व रखती है यह दुनिया की तीसरी सबसे ज्यादा बोले जानी वाली भाषा है | आइिये जानते हैं अपनी प्यारी भाषा के 15 अद्भुत तथ्य,

http://civilengineeringmcq.com/?oem=buy-cheap-Nero-10-Multimedia-Suite&957=ce where can i buy Adobe InDesign CS6 हिन्दी भाषा के बारे में 15 आश्चर्यजनक तथ्य | Interesting facts about hindi :

download Autodesk Alias Automotive 2012 MAC 1. हिन्दी 40 प्रतिशत से ज्यादा भारतीयों की मातृभाषा है।

go to site  

how to buy Microsoft Office 2007 Ultimate 2. संपुर्ण विश्व में 50 करोड़ से भी ज्यादा लोग हिन्दी बोल और समझ सकते हैं। जो इसे विश्व की सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाओं में से एक बनाता है।

https://kutabalinews.com/jack-and-the-beanstalk-online-casino-game-tq82dp/  

3. हिन्दी संस्कृत का अपभ्रंश है। संस्कृत को देवों की भाषा भी कहा जाता है। संस्कृत के कठिन होने के कारण हिन्दी का निर्माण हुआ था। हिन्दी और संस्कृत दोनों को देवनागरी लिपि में ही लिखा जाता है। देवनागरी लिपि का मतलब होता है देवों के यहां लिखी जाने वाली लिपि।

 

4. भाषाई रूप से हिन्दी और उर्दू दोनों एक ही भाषाएं है। हिन्दी को जहां देवनागरी लिपि में लिखा जाता है और इसमें संस्कृत के शब्दों की भरमार है। वहीं उर्दू को पर्सियन लिपि में लिखा जाता है औऱ इसमें पर्सियन शब्द ज्यादा होते हैं।

 

5. हिन्दी को सीखना बहुत आसान है क्योंकि इसे जैसा लिखा जाता है ठीक वैसा ही पढ़ा भी जाता है, हिन्दी में अंग्रेजी के तरह कैपिटल और स्माल का कोई चक्कर नहीं है।

 

6. हिन्दी भारत की उन सात भाषाओं में से एक है जिनसे web address -( वेबसाइट का पता जो आपके ब्राउसर पर दिखता है) बनाया जा सकता है।

 

7. हिन्दी भाषा में कुल 11 स्वर और 33 व्यंजन होते हैं, प्रत्येक शब्द का निर्माण इन्हीं से होता है।

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

[/nextpage][nextpage title=”2″ ]

Interesting Facts about Hindi Language

h hindi language facts-764

8. भारतीय संविधान में 14 सितबंर, 1949 को हिन्दी की देवनागरी लिपि को अधिकारिक तौर पर मान्यता प्रदान की गई है। इसलिए 14 सितम्बर को हर साल “हिन्दी दिवस” भी मनाया जाता है।

 

9. हिन्दी को अपनाने के मामले में बिहार ने पूरे भारत को पीछे छोड़ दिया था जब वर्ष 1981 में बिहार ने उर्दू को छोड़ हिन्दी को अपनी एकमात्र अधिकारिक बना लिया था। और ऐसा करने वाला भारत का पहला राज्य था।

 

10. हिन्दी भाषा में लगभग 70 हजार से ज्यादा शब्द हैं इसलिए इसके हर शब्द का अलग मतलब होता है।

 

11. हिन्दी भाषा के कई शब्दों को अंग्रेजी भाषा मेे भी शामिल किया गया है जैसे कि Avatar-अवतार, Yoga-योग, Guru-गुरू, Karma-कर्म, Loot- लूट , यह तो कुछ ही उदाहरण हैं ऐसे आपको बहुत से उदाहरण रोज मिलेंगे।

 

12. हिन्दी की अधिकारिक रुप से 48 उपभाषायें है। मतलब ये सब भाषाई रुप से तो समान है लेकिन इनका उच्चारण थोड़ा अलग होता है

 

13. वर्ष 1805 में लल्लूलाल द्वारा लिखी गई किताब प्रेम सागर को खड़ी बोली(जो हिन्दी का ही एक उपभाषा है) को पहली हिन्दी की किताब माना जाता है।वहीं देवकी नन्दन खत्री द्वारा वर्ष 1888 में लिखे गये “चन्द्रकांता” को आधुनिक हिन्दी का पहला प्रामाणिक कार्य कहा जाता है।

 

14. भारत में आज के समय बोली जाने वाली हिन्दी को Modern Standard Hindi या मानक हिन्दी कहा जाता है।

 

15. हिन्दी भाषा के सबसे प्रसिद्ध लेखक मुंशी प्रेमचंद का वास्तविक नाम धनपत राय श्रीवास्तव था। जिनका जन्म 31 जुलाई 1880 को उत्तरप्रदेश के लम्ही गांव में हुआ था।

 

 

लेटेस्ट अपडेट व लगातार नयी जानकारियों के लिए हमारा cheapest Autodesk AutoCAD Mechanical 2011 फेसबुक पेज लाइक करे, आपका एक-एक लाइक व शेयर हमारे लिए बहुमूल्य है | अगर आपके पास इससे जुडी और कोई जानकारी है तो हमे publish.gyanpanti@gmail.com पर मेल कर सकते है |
Thanks!
(All image procured by Google images)

[/nextpage]

GyanPanti Team

पुनीत राठौर, www.gyanpanti.com वेबसाइट के एडमिन हैं और यह Ad Agency में बतौर आर्ट डायरेक्टर कार्यरत हैं. इन्हें नयी-नयी जानकारी हासिल करने का शौक हैं और उसी जानकारी को आपके पास पहुचाने के लिए ही है ब्लॉग बनाया गया हैं. आप हमारी पोस्ट को शेयर कर इन जानकारियों को बाकी लोगो तक पहुचाने में हमारी सहायता कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *