देखे! नवजोत सिंह सिद्धू के डिफरेंट स्टाइल और जाने इनके रोचक तथ्य

[nextpage title=”1″ ]

Different Style and Facts about Navjot Singh Sidhu, Hindi

Different style and facts about navjot singh sidhu

क्रिकेटर के उस्ताद नवजोत सिंह सिद्धू, कॉमेडी के बादशाह नवजोत सिंह सिद्धू, शायरी के नवाब नवजोत सिंह सिद्धू, राजनीती के महारथी नवजोत सिंह सिद्धू | क्या क्या कहे इन्हें?  हिंदुस्तान में ऐसा कौन हैं जो इन्हें नहीं जानता। हंसमुख और खुशमिजाज सिद्धू खेल के मैदान से लेकर राजनीति के रण में, वह हर जगह हरफनमौला रहें हैं। सिद्धू को आपने और हमने कई जगहों पर देखा होगा। आपके टीवी स्क्रीन पर काफी जाना-पहचाना चेहरा बन चुके हैं नवजोत सिंह सिद्धू। एक मजेदार बात यह है कि आपके टीवी के खेल, समाचार, मनोरंजन सभी के चैनलों पर वो आपको जरूर दिखाई दिए होंगे।

Different Style and Facts about Navjot Singh Sidhu, Hindi :

 

Different style and facts about navjot singh sidhu

1. बाल-बच्चों वाला सिद्दू

220 अक्टूबर 1963 को पटियाला में जन्में नवजोत सिंह सिद्धू की बीवी का नाम नवजोत कौर सिद्धू है। उनके दो बच्चे हैं- बेटी राबिया और बेटा करण। दिलफेंक और शायरमिजाज सिद्धू के सारे रूप हम आपके लिए बटोर कर लाए हैं।

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

[/nextpage][nextpage title=”2″ ]

Different Style and Facts about Navjot Singh Sidhu, Hindi

Different style and facts about navjot singh sidhu

2. जुझारू क्रिकेटर नवजोत 

सिद्धू का क्रिकेट करियर शुरू हुआ 1983 में और 1999 तक चला। उनके पिता सरदार भगवंत सिंह सिद्धू भी क्रिकेट खेला करते थे और पिता की चाहने पर वो क्रिकेट के मैदान में आ गए। सिद्धू ने पहला टेस्ट मैच 1983 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ खेला। पहला एक दिवसीय मैच 1987 के विश्व कप में खेला था।

 

 

Different style and facts about navjot singh sidhu

3. जब बन गए ‘सिक्सर सिद्धू’

14प्रारंभ में उनके खेल शैली की काफी आलोचना की गई लेकिन अपने आलोचकों को ऐसा जवाब बल्ले से दिया। स्पिन गेंदबाजों को धुनाई करने लिए मशहूर सिद्धू को लोग उन्हें ‘सिक्सर सिंद्धू’ कहने लगे। वो एक दिवसीय मैचों में 5 शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज थे। सिद्धू ने भारत के लिए कुल 51 टेस्ट और 136 वन-डे खेले थे।

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

[/nextpage][nextpage title=”3″ ]

Different Style and Facts about Navjot Singh Sidhu, Hindi

Different style and facts about navjot singh sidhu

4. फर्राटेबाज कमेंटेटर

क्रिकेट से संयास के लेने के बाद, जल्द ही सिद्धू ने क्रिकेट कमेंटरी में अपना हाथ अजमाया। 2001 में श्रीलंका दौरे से सिद्धू ने अपनी नई पारी क्रिकेट के मैदान से ही शुरू की। सिद्धू ने कई खेल चैनलों के लिए कमेंटरी की है। साथ ही सिद्धू हिन्दी और अंग्रेजी, दोनो में ही समान प्रवाह के साथ कमेंटरी कर सकते हैं। हालांकि आईसीसी ने सिद्धू को बांग्लादेशी खिलाड़ियों पर नस्लीय टिप्पणी करने के लिए कमेंटरी करने पर प्रतिबंध लगा दिया।

 

 

Different style and facts about navjot singh sidhu

5. चतुर राजनेता

सिद्धू राजनीति में भी सक्रिय रहे। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर 2004 के लोकसभा के चुनावों में अमृतसर सीट पर जीत दर्ज की। 2009 के लोकसभा चुनावों में भी सिद्धू ने अमृतसर सीट भाजपा की टिकट पर ही जीती।

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

[/nextpage][nextpage title=”4″ ]

Different Style and Facts about Navjot Singh Sidhu, Hindi

Different style and facts about navjot singh sidhu

6. वक्त आया तो अड़े भी

हालांकि 2014 के चुनावों में भाजपा ने सिद्धू को अमृतसर से टिकट नहीं दिया। इस पर सिद्धू ने कहा, “अमृतसर में मेरा काम बोलता है। मैने इस पवित्र धरती से चुनावी मैदान में कदम रखा, इसलिए या तो में यहीं से चुनाव लड़ूंगा या फिर नहीं लड़ूंगा।”

 

 

Different style and facts about navjot singh sidhu

7. कॉमेडी का बादशाह

व्यवसायिक टीवी पर सिद्धू का नाता शुरू हुआ ‘द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज’ के साथ। भारत में स्टैण्ड-अप कॉमेडियंस की खोज करता यह शो बेहद कामयाब हुआ। इसके सभी सीजन में सिद्धू ने जज की भूमिका निभाई। उनके साथ शेखर सुमन और शत्रुघ्न सिन्हा ने भी शो में जज की भूमिका निभाई। इसके अलावा नवजोत सिंह, मंदिरा बेदी के साथ फंजाबी चक दे में भी इसी तरह की भूमिका में नजर आए।

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

[/nextpage][nextpage title=”5″ ]

Different Style and Facts about Navjot Singh Sidhu, Hindi

Different style and facts about navjot singh sidhu

8. आरोप और सजा

सिद्धू का दामन इतना साफ भी नहीं रहा। 1988 में सिद्धू पर गुरनाम सिंह पर हमला कर उसकी हत्या के आरोप में सिद्धू को जेल भी जाना पड़ा। हालांकि सिद्धू अपने ऊपर लगे आरोपों को नकारते रहे। लेकिन चश्मदीद गवाह के चलते उन्हें 2006 में दोषी करार कर तीन साल की कैद की सजा सुनाई गई। सिद्धू ने 2007 में अपने पद से इस्तीफा देकर सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाई। सुप्रीम कोर्ट ने उनकी सजा पर स्टे लगा कर उन्हें राहत दी।

 

 

Different style and facts about navjot singh sidhu

9. सिनेमा के पर्दे पर

टीवी ही नहीं, सिद्धू फिल्मों में भी नजर आए हैं। फिल्म ‘मुझसे शादी करोगी’ में वो नजर आए। इलके अलावा वो पंजाबी फिल्म ‘मेरी पिंड’ में एक एनआरआई की भूमिका में हरभजन मान और गुरप्रीत गुग्गी के साथ नजर आए। इसके अलावा सिद्धू ने वरुण धवन की फिल्म ABCD-2 में भी कैमियो किया।

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

[/nextpage][nextpage title=”6″ ]

Different Style and Facts about Navjot Singh Sidhu, Hindi

Different style and facts about navjot singh sidhu

10. टीवी पर भी छा गए

“द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज” और “फंजाबी चक दे” के अलावा भी सिद्धू कई बार टीवी पर आए हैं। “बिग बॉस-6” में प्रतिभागी बने हैं। साथ ही “कॉमेडी नाइट्स विद कपिल” में तो अपने जलवे वो दिखा ही रहे हैं।

 

 

Different style and facts about navjot singh sidhu

11. करिश्मा ‘सिद्धूइस्म’ का

सिद्धू अपनी बातों के लिए काफी मशहूर हैं। उनके मुहावरे, उनके वन-लाइनर्स, उनके उदाहरण और उनके शेर उन्हे एक अलग ही पहचान दिलाते हैं। उनकी इन्हीं अदा के चलते उनकी बातों को ‘सिद्धूइस्म’ कहा जाता है।

सिद्धू का सिद्धूइस्म इतना मशहूर हुआ कि एमटीवी चैनल पर उनकी बातों का हास्यांकन करता एक शो आया – ‘पिद्दू द ग्रेट,’ जिसमें वन-लाइनर्स को पिद्दूइस्म कहा गया।

 

 

लेटेस्ट अपडेट व लगातार नयी जानकारियों के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करे, आपका एक-एक लाइक व शेयर हमारे लिए बहुमूल्य है | अगर आपके पास इससे जुडी और कोई जानकारी है तो हमे publish.gyanpanti@gmil.com पर मेल कर सकते है |
Thanks!
(All image procured by Google images)

[/nextpage]

GyanPanti Team

पुनीत राठौर, www.gyanpanti.com वेबसाइट के एडमिन हैं और यह Ad Agency में बतौर आर्ट डायरेक्टर कार्यरत हैं. इन्हें नयी-नयी जानकारी हासिल करने का शौक हैं और उसी जानकारी को आपके पास पहुचाने के लिए ही है ब्लॉग बनाया गया हैं. आप हमारी पोस्ट को शेयर कर इन जानकारियों को बाकी लोगो तक पहुचाने में हमारी सहायता कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *