loading...

हिन्दू भारतीय परम्पराओं के पीछे के वैज्ञानिक महत्व

Share

Scientific Reasons Behind Hindu Traditions, Hindi हिन्दू भारतीय परम्पराओं के पीछे के वैज्ञानिक महत्व :   1. पैरों में बिछिया पहनने की मान्यता विवाहित महिलाओं में पैरों में बिछिया पहनने की मान्यता यूं ही नहीं है। सामान्य तौर पर बिछिया पैर की दूसरी उंगली में पहनी जाती है। उस उंगली की एक खास नस यूट्रस…

Read more

अवश्य पढ़े! संपूर्ण विदुर निति | Sampurna Vidur Niti in Hindi

Share

Sampurna Vidur Niti in Hindi 1. सुखी जीवन के सूत्र : दोस्तों से मेलजोल, ज्यादा धन कमाना, पुत्र का आलिंगन, मैथुन में प्रवृत्ति, सही समय पर प्रिय वचन बोलना, अपने वर्ग के लोगों में उन्नति, अभीष्ट वस्तु की प्राप्ति और समाज में सम्मान.   2. ये लोग धर्म नहीं जानते : नशे में धूत, असावधान,…

Read more

गुरु गोरखनाथ का जीवन परिचय, Goraknath Life Story in Hindi

Share

Goraknath biography in Hindi गुरु गोरवाखनाथ को गोरक्षनाथ भी कहा जाता है। यह 11 वी से 12 वी शताब्दी के नाथ योगी थे ।इनके नाम पर एक नगर भी है जिसका नाम गोरखपुर है। नाथ साहित्य की शुरुआत गौरखनाथ द्रा की गयी थी । गोरखपंथी साहित्य के अनुसार आदिनाथ स्वयं भगवान शिव को माना जाता…

Read more

Mahabharat, क्या आप जानते है महाभारत में कौन किसका अवतार था

Share

Mahabharata Character and Their Avatar, Hindi Mahabharat Facts, महाभारत एक बहुत ही महान युद्ध को दिखाता है, जो धर्म और अधर्म के बीच में हुआ था। विजय धर्म की हुई थी। महाभारत में वैसे तो बहुत पात्र हैं पर कुछ महान पात्र भी हैं जिन्हें महाभारत का नायक कहा जाये तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी।…

Read more

दुनियां के सबसे प्राचीन धर्मग्रन्थ वेदों का सम्पूर्ण इतिहास

Share

Complete Veda History in Hindi हिन्दू धर्म के प्राचीन धर्मग्रन्थ वेदों के इतिहास : वेद ‘विद’ शब्द से बना है जिसका अर्थ होता है ज्ञान या जानना, ज्ञाता या जानने वाला; मानना नहीं और न ही मानने वाला। सिर्फ जानने वाला, जानकर जाना-परखा ज्ञान। अनुभूत सत्य। जाँचा-परखा मार्ग। इसी में संकलित है ‘ब्रह्म वाक्य’। वेद…

Read more

इन बुरी आदतों के कारण जीवित व्यक्ति भी हो जाता है मृत

Share

14 Bad Habit According to Ramayana, Hindi रामायण के अनुसार बुरी आदते | Buri Aadate : संस्कार पर चलना नितांत आवश्यक होता है। प्रचीन धर्मवेद्ताओं ने संस्कारों की ही बढ़ाई की है। हमारे सभी ग्रंथ हमें अच्छाई की राह पर चलने की प्रेरणा देते हैं। शास्त्रों द्वारा बताये गये संस्कारो या नियमों का पालन अवश्य…

Read more

समर्थ रामदास का जीवन परिचय, Guru Ramdas Story

Share

Guru Ramdas Biography in Hindi समर्थ गुरु रामदास, Guru Ramdas का जन्म शके 1530, सन 1608 में महाराष्ट्र के औरंगाबाद ज़िले के जांब नामक स्थान पर हुआ था। इनका मूल नाम 'नारायण सूर्याजीपंत कुलकर्णी' था। अपने बचपन में समर्थ रामदास बहुत शरारती हुआ करते थे। गाँव के लोग रोज़ उनकी शिकायत उनकी माता से आकर…

Read more

एकनाथ का जीवन परिचय, Saint Eknath Story in Hindi

Share

Eknath biography in Hindi संत एकनाथ, Saint Eknath के जन्म का समय 1533 ई. से 1599 ई. के बीच का माना जाता है । एकनाथ महाराष्ट्र के प्रसिद्ध सन्तों में बहुत ख्याति प्राप्त हैं। महाराष्ट्रीय भक्तों में नामदेव के पश्चात् दूसरा नाम एकनाथ का ही आता है। ये वर्ण से ब्राह्मण जाति के थे। इन्होंने…

Read more

स्वामी चिन्मयानन्द जी का जीवन परिचय, Swami Chinmayanand

Share

Swami Chinmayanand biography in Hindi स्वामी चिन्मयानन्द, Swami Chinmayanand जी का जन्म 8 मई 1916 को दक्षिण भारत के केरल प्रान्त में एक संभ्रांत परिवार में हुआ था। उनके बचपन का नाम बालकृष्ण था। उनके पिता न्याय विभाग में एक न्यायाधीश थे। उनकी प्रारम्भिक शिक्षा पाँच वर्ष की आयु में स्थानीय विद्यालय श्री राम वर्मा…

Read more

स्वामी हरिदास का जीवन परिचय, Swami Haridas

Share

Swami Haridas biography in Hindi स्वामी हरिदास का जन्म 1490 में हुआ था । भक्त कवि, शास्त्रीय संगीतकार तथा कृष्णोपासक सखी संप्रदाय के प्रवर्तक थे, जिसे 'हरिदासी संप्रदाय' भी कहते हैं। इन्हें ललिता सखी का अवतार माना जाता है। इनकी छाप रसिक है। इनके जन्म स्थान और गुरु के विषय में कई मत प्रचलित हैं।…

Read more

पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य का जीवन परिचय, Pandit Shri Ram Sharma Acharya

Share

Pandit shri ram sharma acharya biography in Hindi पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य ( गायत्री परिवार ) का जन्म 20 सितंबर 1911 मैं गांव आवलखेड़ा, आगरा, उत्तर प्रदेश में हुआ था । उनका बाल्यकाल व कैशोर्य काल ग्रामीण परिसर में ही बीता। वे जन्मे तो थे एक जमींदार घराने में, जहाँ उनके पिता श्री पं.रूपकिशोर जी…

Read more

सद्गुरु जग्गी वासुदेव का जीवन परिचय, Jaggi Vasudev

Share

Sadguru jaggi vasudev biography in Hindi जाने कौन है जग्गी वासुदेव | Jaggi Vasudeva : सद्गुरु जग्गी वासुदेव का जन्म 3 सितंबर 1957 को कर्नाटक राज्य के मैसूर शहर में हुआ । उनके पिता पेशे से एक डॉक्टर थे । बालक जग्गी को कुदरत से खूब लगाव था । अक्सर ऐसा होता था वह कुछ…

Read more

मीराबाई का जीवन परिचय, Mirabai Story in hindi

Share

Mirabai biography in Hindi कृष्णभक्त मीराबाई की जीवनी, Mirabai Story in Hindi : मीराबाई का जन्म संवत् 1498 में पाली में कुरकी नामक गाँव में हुआ था। वह कृष्ण-भक्ति शाखा की प्रमुख कवयित्री हैं। उनकी कविताओं में स्त्री पराधीनता के प्रती एक गहरी टीस है, जो भक्ति के रंग में रंग कर और गहरी हो…

Read more

कवि सूरदास का जीवन परिचय, Surdas Biography in Hindi

Share

Poet Surdas Biography in Hindi कृष्णभक्त सूरदास का जीवन ( Surdas ) : कवि सूरदास का जन्म 1478 ईस्वी में आगरा-मथुरा रोड पर स्थित रुनकता नामक गांव में हुआ था। लेकिन कुछ विद्वानों का यह भी मत है कि उनका जन्म एक गरीब सारस्वत ब्राह्मण परिवार में दिल्ली के पास सीही नामक गांव में 1479…

Read more

मह्रिषी वेदव्यास का जीवन | Mahirshi Vedvyas Biography

Share

Vedvyas biography in Hindi महाभारत के कथाकार वेदव्यास ( Vedvyas ) : विश्व के पहले पुराण, विष्णु पुराण की रचना करने वाले महर्षि पराशर एक बार यमुना नदी के किनारे भ्रमण के लिए निकले। भ्रमण करते हुए उनकी नजर एक सुंदर स्त्री सत्यवती पर पड़ी। मछुआरे की पुत्री सत्यवती, दिखने में तो बेहद आकर्षक थी…

Read more

गोस्वामी तुलसीदास का जीवन परिचय, Goswami Tulsidas

Share

Goswami tulsidas biography in Hindi   गोस्वामी तुलसीदास ( Goswami Tulsidas ) का जन्म 1511 को सोरों शूकर क्षेत्र कासगंज उत्तर प्रदेश में हुआ था । इन्हें आदि काव्य रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मीकि का अवतार भी माना जाता है । श्री राम चरित्र मानस का कथानक रामायण से लिया गया है रामचरित्रमानस लोग ग्रंथ…

Read more

जाने, रामानुज का जीवन परिचय, Ramanuja Life Story in Hindi

Share

Ramanuja biography in Hindi प्रमुख संत रामानुज ( Ramanuja) का जन्म 1017 ईसवी सन् में दक्षिण भारत के तमिल नाडु प्रान्त में हुआ था। बचपन में उन्होंने कांची जाकर अपने गुरू यादव प्रकाश से वेदों की शिक्षा ली। रामानुजाचार्य आलवार सन्त यमुनाचार्य के प्रधान शिष्य थे। गुरु की इच्छानुसार रामानुज से तीन विशेष काम करने…

Read more

स्वामी रामतीर्थ का जीवन परिचय | Swami Rama Tirth Life Story in Hindi

Share

Swami Rama tirth biography in Hindi प्रमुख संत स्वामी रामतीर्थ ( Swami Ramtirth )का जन्म सन् 1873 की दीपावली के दिन पंजाब के गुजरावालां जिले मुरारीवाला ग्राम में पण्डित हीरानन्द गोस्वामी के एक धर्मनिष्ठ ब्राह्मण परिवार में हुआ था। इनके बचपन का नाम तीर्थराम था। विद्यार्थी जीवन में इन्होंने अनेक कष्टों का सामना किया। भूख…

Read more

आदि शंकराचार्य का जीवन परिचय | Adi Shankracharya

Share

Aadi Shankrachaya Biography in Hindi प्रमुख धर्मगुरु शंकराचार्य का जीवन | Shankaracharya life story in hindi : आचार्य शंकर का जन्म वैशाख शुक्ल पंचमी तिथि ई. सन् 788 को तथा मोक्ष ई. सन् 820 स्वीकार किया जाता है, परंतु सुधन्वा जो कि शंकर के समकालीन थे, उनके ताम्रपत्र अभिलेख में शंकर का जन्म युधिष्ठिराब्द 2631…

Read more

माधवाचार्य का जीवन परिचय, Madhvacharya Life Story in Hindi

Share

Madhava acharya biography in Hindi जरूर जाने, माधवाचार्य की जीवनी, Madhvacharya life story : मध्वाचार्य का जन्म सन सन् 1238 में दक्षिण कन्नड जिले के उडुपी शिवल्ली नामक स्थान के पास पाजक नामक एक गाँव में हुआ था। अल्पावस्था में ही ये वेद और वेदांगों के अच्छे ज्ञाता हुए और संन्यास लिया। पूजा, ध्यान, अध्ययन…

Read more

हिन्दू धर्म के 18 पुराणों के नाम तथा इनके बारे में | Hindu Purana

Share

Hindu Dharma Purana Name क्या हैं हिन्दू धर्म के पूरण | Know about Hindu Purana : पुराण भारत की सबसे प्राचीनतम पुस्तके हैं। इन्हें स्वंय महर्षि वेदव्यास ने रचा था। पुराण हमे जीवन यापन की कला और प्राचीन कथाओं को बताते हैं। पुराणों का आधार त्रिदेव ही हैं। इनमें भगवान द्वारा बताये गये अद्भुत ज्ञान…

Read more
Loading...
Close