आंध्र प्रदेश की नयी राजधानी अमरावती के रोचक तथ्य | Amravati Facts in Hindi

Share

Amazing Facts about Amravati

Amazing Facts about Amravati

loading...

आंध्र प्रदेश की नयी राजधानी अमरावती के रोचक तथ्य | Amazing facts about Amravati in Hindi : | Updated Post : “अमरावती” जिसका सरल शब्दों में अर्थ है “देवताओं की नगरी” | भारत के प्रधानमंत्री “नरेन्द्र मोदी” ने अमरावती शहर का शिलान्यास कर दिया है, और अब अमरावती को आंध्र प्रदेश की नयी राजधानी के रूप में मान्यता मिल चुकी है | आइये जानते है अमरावती के रोचक तथ्य

 

तथ्य 1 : बेहतरीन लोकेशन 
अमरावती को इसकी बेहतरीन लोकेशन के कारण राजधानी के रूप में चुना गया है क्योकि उत्तरी, दक्ष्णि और तटीय क्षेत्रो से इस और आना आसान पढता है और यह जगह विजयवाडा और गुंटूर जिलो के नजदीक भी है जिसके कारण यह आसानी से दुसरे क्षेत्रो से जुड़ सकती है |

 

तथ्य 2 :  बसावट
अमरावती नगर, कृष्णा नदी के किनारे बसाया जाएगा |

 

तथ्य 3 : मिटटी और पानी का प्रयोग 
अमरावती के शिलान्यास समारोह में दुनियाँ के विभिन्न हिस्सों से मिटटी और पानी लाकर प्रयोग किया गया | ऐसा करने का कारण यह बताया गया की नई राजधानी को “जनता के शहर” के रूप में बसाया जाएगा |

 

तथ्य 4 : आंध्र के 16,000 गाँवों की मिटटी और पानी का प्रयोग 
शिलान्यास समारोह में आंध्र के करीब 16,000 गाँवों से मिटटी और पानी लाकर प्रयोग किया गया और तेलुगु देशम पार्टी के सी.एम. रमेश तो माउंट आबू से कुछ मिटटी और पानी लेकर आये थे |

 

तथ्य 5 : लम्बा इतिहास और सांस्कृतिक विरासत 
अमरावती का अपना एक लम्बा इतिहास और समृद्ध संस्कृति है, इतिहासकारों के अनुसार अमरावती, सातवाहनो और विश्नुकुंदिना साम्राज्य की राजधानी रह चुकी है |

 

तथ्य 6 : एशिया की सबसे बड़ी ‘मिर्च मार्किट
अमरावती के निकट गुंटूर में एशिया की सबसे बड़ी ”मिर्च मार्किट” स्थित है |

 

तथ्य 7 : मृत ज्वालामुखी 
अमरावती के निकट “मंगलागिरी” में कुछ ऐसे स्थान है जहाँ भारतीय प्रायद्वीप के कुछ मृत ज्वालामुखी पाएं जाते है |

कृपया अगले पेज पर क्लिक करे–>>

loading...

Comments

Comments Below

Related Post

GyanPanti Team

पुनीत राठौर, www.gyanpanti.com वेबसाइट के एडमिन हैं और यह Ad Agency में बतौर आर्ट डायरेक्टर कार्यरत हैं. इन्हें नयी-नयी जानकारी हासिल करने का शौक हैं और उसी जानकारी को आपके पास पहुचाने के लिए ही है ब्लॉग बनाया गया हैं. आप हमारी पोस्ट को शेयर कर इन जानकारियों को बाकी लोगो तक पहुचाने में हमारी सहायता कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close