10 facts about Bogibeel Bridge – ब्रिज की 10 खास बातें

Share

(Bogibeel Bridge) ब्रिज की 10 खास बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्रह्मपुत्र नदी पर देश का सबसे लंबा डबल डेकर रेल और रोड ब्रिज (Bogibeel Bridge)का उद्घाटन कर दिया है।  बोगीबील ब्रिज भारतीय सेना के लिए खासा अहम है। करीब 4.94 किलोमीटर लंबा रेल और रोड ब्रिज अरुणाचल सीमा से सटे होने के कारण सामरिक दृष्टि से यह खासा अहम है। इस पुल का इंतजार असम और अरुणाचल प्रदेश के लोगों को कई सालों से था।

loading...

यह पुल देश के पूर्वोत्तर इलाके की जीवन रेखा होगा बोगीबील पुल असम और अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी क्षेत्र में ब्रह्मपुत्र नदी के उत्तर और दक्षिण तट के बीच संपर्क की सुविधा प्रदान करेगा।

1. ब्रह्मपुत्र नदी पर डबल डेकर रेल और रोड ब्रिज (बोगीबील पुल) की सहायता से असम और अरुणाचल राज्यों के बीच लोग आसानी से आ-जा सकेंगे।

2. बोगीबील पुल भूकंप प्रभावित क्षेत्र में है, इस पुल को भूकंपरोधी बनाया गया है जो 7 तीव्रता से ज्यादा के भूकंप में भी धराशायी नहीं होगा।

3. बताया जा रहा है कि रेल-सड़क पुल बोगीबील की मियाद कम से कम 120 वर्ष है।

 

4. उत्तर पूर्वी सीमा पर तैनात सेना को भी आसानी से रसद आदि पहुंचाई जा सकेगी, यानि रक्षा मोर्चे पर भी यह पुल अहम भूमिका निभाने के लिए तैयार है।

 

5.  इससे असम के धीमाजी, लखीमपुर के अलावा अरुणाचल के लोगों को भी फायदा होगा।

 

6. भारतीय रेलवे ने इस  बेहद चुनौतीपूर्ण काम को सफलता के साथ दिया है अंजाम, इसके नीचे के डेक पर दो रेल लाइन हैं और ऊपर के डेक पर 3 लेन की सड़क है।

 

7. इस ब्रिज को बनाने में इंजीनियरों को कई तरह की चुनौतियों का भी सामना करना पड़ा है बारिश से इसके काम में कई बाधायें आईं।

 

8. बोगीबील ब्रिज से पहली गाड़ी तिनसुकिया-नाहरलगुन इंटरसिटी एक्सप्रेस गुजरी।

9. बताया जाता है कि परियोजना में देरी के कारण बोगीबील पुल की लागत 85 फीसद बढ़ गई।

10. बोगीबील पुल चीन के लिहाज से भी काफी अहम माना जा रहा है और सेना को इस पुल से जरूरत पड़ने पर खासी मदद मिलेगी।

 

लेटेस्ट अपडेट व लगातार नयी जानकारियों के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करे, आपका एक-एक लाइक व शेयर हमारे लिए बहुमूल्य है | अगर आपके पास इससे जुडी और कोई जानकारी है तो हमे publish.gyanpanti@gmil.com पर मेल कर सकते है |
Thanks!
(All image procured by Google images)

[/nextpage]

loading...

Comments

Comments Below

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close